Dhoni missed his last match at the crease by 2 inches, for the first time he was seen so sad on the subject. | अपने आखिरी मैच में 2 इंच से क्रीज पर पहुंचने से चूक गए थे धोनी, पहली बार मैदान पर उन्हें इतना दुखी देखा गया था

0
47

  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Dhoni Missed His Last Match At The Crease By 2 Inches, For The First Time He Was Seen So Sad On The Field.

13 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

यह फोटो 2019 के वर्ल्ड कप सेमीफाइनल की है। तब महेंद्र सिंह धोनी न्यूजीलैंड के खिलाफ 50 रन पर रन आउट हो गए थे।

  • महेंद्र सिंह धोनी ने 2019 में अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच खेला था, तब वे न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में उतरे थे
  • धोनी उस मैच में 50 रन बनाकर रन आउट हुए थे, उनके आउट होने पर भी विवाद हुआ था

आखिरकार महेंद्र सिंह धोनी ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया। हमेशा की तरह इस बार भी कैप्टन कूल ने अचानक फैसला कर दुनिया को चौंका दिया। उनके संन्यास की अटकलें लंबे वक्त से लग रही थी। लेकिन, कई दिग्गज अभी भी यह मान रहे थे कि उनमें काफी क्रिकेट बचा है।

धोनी आखिरी बार टीम इंडिया की जर्सी में पिछले साल 10 जुलाई को नजर आए थे। तब वे न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में उतरे थे।

न्यूजीलैंड ने भारत को 240 रन का टारगेट दिया था

न्यूजीलैंड ने उस मैच में टॉस जीतकर पहली बल्लेबाजी का फैसला किया था। उसने 46.1 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 211 रन बना लिए थे। तभी बारिश होने लगी और मैच को वहीं रोकना पड़ा। सेमीफाइनल के कारण रिजर्व डे रखा गया था। इसलिए अगले दिन न्यूजीलैंड ने उसी स्कोर से आगे खेलते हुए 50 ओवर में 239 रन बनाए। टीम इंडिया को 240 रन का टारगेट मिला।

सौ रन के भीतर ही भारत के 7 विकेट गिर गए थे

टारगेट का पीछा करते टीम इंडिया के सात विकेट 100 रन के भीतर ही गिर गए। न विराट, न रोहित, न केएल राहुल किसी का बल्ला नहीं चला। करोड़ों उम्मीदें एक बार फिर महेंद्र सिंह धोनी से जुड़ गईं। उन्होंने रविंद्र जडेजा के साथ 116 रन की साझेदारी करते हुए टीम का स्कोर 208 तक पहुंचा दिया।

इसी स्कोर पर जडेजा 77 रन बनाकर आउट हो गए। फिर भी धोनी की मौजूदगी से उम्मीदें बंधी हुईं थीं। जीत के लिए 32 रन और बनाने थे और तीन विकेट बाकी थे। भारतीय फैंस को यही लग रहा था कि माही है न।

मार्टिन गुप्टिल ने धोनी को रन आउट किया

टीम इंडिया की जीत की तरफ पहुंच रही थी। लेकिन, तभी धोनी के कदम लडख़ड़ा गए। वैसे वे जब दौड़ते हैं, तो विकेटकीपर के दस्ताने में गेंद पहुंचने से पहले ही पहुंच जाते हैं। लेकिन, उस दिन चूक गए। मार्टिन गुप्टिल का सीधा थ्रो विकेट पर लगा और बेल्स के साथ ही करोड़ों उम्मीदें भी टूट गईं। जीत के करीब पहुंचकर आउट होने से धोनी भी मायूस थे। वे भारी मन से मैदान से लौटे।

धोनी के रन आउट पर विवाद हुआ था

धोनी के रन आउट को लेकर तब विवाद भी हुआ था। सोशल मीडिया यूजर्स ने कुछ स्क्रीन शॉट शेयर किए थे, जिनके मुताबिक धोनी जिस बॉल पर आउट हुए वह नो-बॉल थी, लेकिन अंपायर ने ध्यान नहीं दिया। फैन्स ने धोनी के आउट होने से ठीक पहले का स्क्रीनशॉट भी सोशल मीडिया पर शेयर किया था।

यह फोटो 2019 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल की है। इसमें तीसरे पावरप्ले के दौरान 6 फील्डर 30 यार्ड के सर्कल के बाहर दिख रहे हैं, जबकि 5 फील्डर ही बाहर रह सकते हैं।

अंपायर की गलती से धोनी रन आउट हुए

इसमें तीसरे पावरप्ले के दौरान 6 फील्डर 30 यार्ड सर्कल के बाहर खड़े दिखाई दिए थे। जबकि नियमों के मुताबिक, आखिरी 10 ओवरों के तीसरे पावरप्ले में केवल 5 फील्डर ही सर्कल के बाहर खड़े रह सकते हैं। ऐसे में धोनी जिस गेंद पर आउट हुए वह नो-बॉल या फ्री हिट होनी थी। इस पर अंपायर्स और रैफरी दोनों का ध्यान नहीं गया और अंपायर की इस गड़बड़ी ने टीम इंडिया की सारी उम्मीदें पानी हो गईं।

खैर धोनी आउट कर मैदान से गए। यूं तो इस खिलाड़ी ने 350 से ज्यादा वनडे खेले हैं। लेकिन, उस दिन लगा कि धोनी बहुत भारी मन से लौटे। शायद उसी दिन उन्होंने हमेशा के लिए बल्ला टांगने का मन बना लिया था।

0

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here