Shoaib Akhtar recalls facing Sachin Tendulkar for the first time: ‘This is a god? Iss ki khairiyat nahi’ | सचिन को पहली बार गेंदबाजी करते वक्त शोएब अख्तर ने खुद से कहा था- यह खुदा है? आज इसकी खैर नहीं

0
8

  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Shoaib Akhtar Recalls Facing Sachin Tendulkar For The First Time: ‘This Is A God? Iss Ki Khairiyat Nahi’

एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

शोएब अख्तर ने 1999 के कोलकाता टेस्ट में सचिन तेंदुलकर को पहली पारी में पहली ही गेंद पर क्लीन बोल्ड कर दिया था। उन्होंने वीवीएस लक्ष्मण, राहुल द्रविड़ और वेंकटेश प्रसाद के विकेट भी हासिल किए थे। -फाइल

  • शोएब अख्तर ने एक पाकिस्तानी न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में सचिन तेंदुलकर से अपनी पहली मुलाकात के बारे में बातें शेयर कीं
  • उन्होंने कहा कि 1999 के कोलकाता टेस्ट में मैं सचिन को पहली ही गेंद पर आउट करना चाहता था और मैच में ठीक ऐसा ही हुआ
  • हाल ही में इस पाकिस्तानी गेंदबाज ने बीसीसीआई पर अपने रसूख का इस्तेमाल कर टी-20 वर्ल्ड कप को रद्द कराने का आरोप लगाया था

सचिन तेंदुलकर और रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से मशहूर पाकिस्तान के तेज गेंदबाज शोएब अख्तर के बीच मैदान पर कई बार दिलचस्प टक्कर देखने को मिली है। एक दिन पहले उन्होंने पाकिस्तानी न्यूज चैनल एआरवाय न्यूज को दिए इंटरव्यू में सचिन को पहली बार बॉलिंग करने का अनुभव शेयर किया। उन्होंने बताया कि मेरा पहली बार तेंदुलकर से सामना 1999 के कोलकाता टेस्ट में हुआ था।

अख्तर ने कहा कि तब तेंदुलकर दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक थे। मैंने सुना था कि वो गॉड हैं। उन्हें बॉलिंग करने से पहले मैंने खुद से कहा- यह खुदा है? इसकी खैरियत नहीं। वह मुझे नहीं और मैं उनको नहीं जानता था। वह अपने एटीट्यूड में थे और मैं अपने एटीट्यूड, लेकिन मैं उन्हें पहली ही गेंद पर आउट करना चाहता था और ऐसा ही हुआ।

अख्तर ने सचिन को कोलकाता टेस्ट में पहली गेंद पर बोल्ड किया

अख्तर ने कोलकाता टेस्ट में सचिन को पहली ही गेंद पर क्लीन बोल्ड कर दिया। इसके अलावा उन्होंने वीवीएस लक्ष्मण, राहुल द्रविड़ और वेंकटेश प्रसाद का विकेट भी हासिल किया। उन्होंने पहली पारी में 71 रन देकर चार विकेट लिए थे। उन्होंने दूसरी पारी में भी चार विकेट लिए। पाकिस्तान ने यह टेस्ट 46 रन से जीता था।

अख्तर ने बीसीसीआई पर टी-20 वर्ल्ड कप रद्द करवाने का आरोप लगाया था

अख्तर अक्सर विवादित बयान देते हैं। 10 दिन पहले ही उन्होंने पाकिस्तानी न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) पर आरोप लगाया था कि उसने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के लिए टी-20 वर्ल्ड कप को रद्द करवा दिया।

तब अख्तर ने कहा था कि आज ताकतवर इंसान और पावरफुल बोर्ड (बीसीसीआई) ही क्रिकेट को चला रहे हैं। इस साल एशिया कप हो सकता था। भारत और पाकिस्तान के बीच में मैच खेलने का अच्छा मौका भी था। टी-20 वर्ल्ड कप हो सकता था, लेकिन में राशिद लतीफ से कह चुका था कि ये (बीसीसीआई) ताकतवर लोग इसे नहीं होने देंगे। बीसीसीआई के लिए आईपीएल को नुकसान नहीं होना चाहिए, टी-20 वर्ल्ड कप भाड़ में जाए।

अख्तर ने हरभजन-साइमंड्स के बीच 2008 के ‘मंकीगेट’ विवाद को छेड़ा
इसके अलावा उन्होंने इस इंटरव्यू में 2008 के मंकीगेट विवाद को भी छेड़ा। अख्तर ने कहा कि कई बार कोई किसी को बंदर कह देता है और बच निकलता है। उसे कोई सजा नहीं होती। इसी बीच क्रिकेट बोर्ड सीरीज बीच में छोड़ने की धमकी भी दे देता है। मैं ऑस्ट्रेलिया वालों से पूछ रहा हूं कि आज एथिक्स कहां हैं?

दरअसल, 2008 में सिडनी टेस्ट के दौरान ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर एंड्र्यू साइमंड्स ने आरोप लगाया था कि हरभजन सिंह ने उन्हें मंकी (बंदर) कहा है। इस नस्लीय टिप्पणी के बाद मामला सिडनी कोर्ट तक पहुंचा था। तब हरभजन के खिलाफ आरोप साबित नहीं हो सके थे। इसी दौरान बीसीसीआई ने दौरे को बीच में खत्म करने की भी धमकी दी थी।

0

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here