COVID-19: ताइवान के स्वास्थ्य मंत्री को आखिर क्यों कहना पड़ा Pink is actually a good color ! | Pink is actually a good color! says Taiwan Health Minister | rest-of-world – News in Hindi

0
63

COVID-19: ताइवान के स्वास्थ्य मंत्री को आखिर क्यों कहना पड़ा Pink is actually a good color !

ताइवान के मंत्रियों ने बड़े ही अनूठे अंदाज में लोगों को संदेश दिया

स्वास्थ्य मंत्री (Health Minister) शेन शी चुंग (Chen Shih-Chung) ने बताया कि एक बच्चे के साथ उसके स्कूल के अन्य बच्चों ने सिर्फ इसलिए खराब बर्ताव किया क्योंकि वो पिंक कलर का मास्क लगाकर स्कूल चला गया था. Gender Discrimination का ये मामला जब ताईवान (Taiwan) सरकार के सामने आया तो उन्होंने बच्चों को इस अनूठे अंदाज में संदेश दिया.

ताइवान. इस समय पूरी दुनिया महामारी (Pandemic) कोरोना (Coronavirus) के संकट से जूझ रही हैं, वहीं दुनिया भर में घरेलू उत्पीड़न और सामाजिक भेदभाव के मामले भी सामने आ रहे हैं. ऐसा ही लैंगिक भेदभाव (Gender Discrimination) का मामला जब ताईवान (Taiwan) सरकार के सामने आया तो वहां की सरकार ने बड़े ही अनूठे अंदाज में लोगों को विशेषकर स्कूली बच्चों को लिंगभेद के खिलाफ संदेश दिया.

पिंक मास्क पहनने से बच्चों ने किया था इंकार !
दरअसल ताइवान स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय (Ministry of Health and Family Welfare) के स्वास्थ्य मंत्री (Health Minister) शेन शी चुंग (Chen Shih-Chung) ने बताया कि एक बच्चे के साथ उसके स्कूल के अन्य बच्चों ने सिर्फ इसलिए खराब बर्ताव किया क्योंकि वो पिंक कलर का मास्क लगाकर स्कूल चला गया था पिंक कलर को फेमिनिन माना जाता है. कई माता-पिता ने इस घटना के बाद बच्चों के बीच लैंगिक भेदभाव को लेकर चिन्ता जाहिर की थी और कहा था कि उनके बच्चे सरकार की तरफ से बांटे गए पिंक मास्क सिर्फ इस वजह से नहीं पहन रहे हैं.

इस मामले के सामने आने के बाद ताइवान के स्वास्थ्य मंत्री जब अन्य अधिकारियों के साथ प्रेस की डेली ब्रीफिंग के लिए आए तो सभी ने पिंक मास्क पहन रखे थे जो लिंगभेद के खिलाफ उनका लोगों को संदेश का प्रतीक था. इसके बारे में बोलते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने मीडिया को बताया कि उनका मकसद पूरे देश को संदेश देना है कि सभी जेन्डर एक बराबर हैं और इस आधार पर भेदभाव गलत है. बच्चों को समझाने के अन्दाज में उन्होंने कहा कि ‘जब वो छोटे थे तो पिंक पैन्थर कार्टून बहुत लोकप्रिय था और पिंक कलर बड़ा फैशनेबल माना जाता था. सभी मास्क, चाहे किसी भी रंग के हों, हमें सुरक्षा देते हैं’.

Taiwan

ताइवान सरकार ने ट्विटर पर शेयर की तस्वीर

गौरतलब है कि ताईवान ने कोरोना से बचाव के लिए अपने नागरिकों को फ्री मास्क वितरित किए हैं, जिनमें पिंक कलर के मास्क भी शामिल हैं. मीडिया ने स्वास्थ्य मंत्री को बताया कि पिंक कलर को लड़कियों का रंग मानते हुए कई स्कूली बच्चे मास्क पहनने से इन्कार कर रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्री की प्रेस कांफ्रेंस में सभी पुरुष अधिकारी बच्चों को प्रोत्साहित करने के लिए ही पिंक मास्क लगाकर पहुंचे थे जिससे उन्हें अपनी सुरक्षा के साथ-साथ लिंगभेद जैसी बुराई से दूर रहने का संदेश दिया जा सके.

ये भी पढ़ें- कोरोना: नर्स बिना PPE के कर रही थी मरीज का इलाज, संक्रमित होकर कोमा में गई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First printed: April 14, 2020, 7:01 PM IST



[ad_2]

Leave a Reply