स्पेन में कोरोनावायरस से 24 घंटों में 961 लोगों की मौत, मरने वालों का आंकड़ा 10 हज़ार के पार||death toll soars in spain as 961 die of coronavirus in last 24 hours | rest-of-world – News in Hindi

0
134

स्पेन में कोरोनावायरस से 24 घंटों में 961 लोगों की मौत, मरने वालों का आंकड़ा 10 हज़ार के पार

स्पेन में कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या 10 हज़ार को पार कर गई
(फाइल)

स्पेन में मरने वालों की तादाद 10348 पहुंच चुकी है जबकि कुल संक्रमित लोगों की तादाद 112065 हो गई है

कोरोनावायरस (Coronavirus) के कहर से दुनियाभर में कोहराम मचा हुआ है. स्पेन (Spain) में पिछले 24 घंटों में 961 लोगों की मौत हो गई है. कोरोनावायरस से बुरी तरह ग्रसित स्पेन में 24 घंटों में मौत का  आंकड़ा  950 को पार कर गया. इसी के साथ स्पेन में मरने वालों की कुल तादाद 10348 पहुंच चुकी है. जबकि कुल संक्रमित लोगों की तादाद 112065 हो गई है.

अमेरिका और इटली के बाद अब स्पेन में एक लाख से ज्यादा लोग कोरोनावायरस से संक्रमित हो गए हैं. स्पेन की राजधानी मैड्रिड इस घातक महामारी का केंद्र बन गया है. मेड्रिड को लेकर ये आशंका जताई जा रही है कि यहां 80 फीसदी लोग घातक महामारी की चपेट मे आ सकते हैं. स्पेन की सरकार ने 14 मार्च से राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन कर रखा है.

स्पेन में 31 जनवरी को कोरोनावायरस संक्रमण का पहला पॉज़िटव केस सामने आया था. लेकिन उसके बाद तेजी से बढ़े संक्रमण और उससे होने वाली मौतों में कमी नहीं आ रही है. जिसकी वजह से मरीज़ों की बढ़ती तादाद को देखते हुए स्पेन के अस्पतालों में हड़कंप मचा हुआ है.

स्पेन में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के पीछे एक बड़ी वजह ये भी रही कि लोगों ने लॉकडाउन का गंभीरता से पालन नहीं किया. हालांकि सरकार बार-बार लोगों को घरों के भीतर रहने को कह रही है. लेकिन पहले कोरोनावायरस को लेकर सरकार की तरफ से भी गंभीरता नहीं दिखाई गई. यहां तक कि फैलते संक्रमण के वक्त भी स्पेन में  सार्वजनिक बाज़ार, सिनेमाघर, रेस्टोरेंट और मनोरंजन वाली जगहों पर लोगों की भीड़ उमड़ती रही. वहीं सरकार ने संक्रमण को लेकर स्क्रीनिंग में तेज़ी नहीं दिखाई. जबकि स्पेन से सटे इटली में कोरोनावायरस की वजह से कोहराम मच चुका था. इसके बावजूद कोरोनावायरस के खतरे को स्पेन की जनता और सरकार भांप नहीं सकी.अब अस्पतालों में हालात ये है कि मेडिकल स्टॉफ मरीजों के इलाज के लिए वेंटिलेटर्स और दूसरे जरूरी मेडिकल संसाधनों की किल्लत से जूझ रहा है क्योंकि अस्पपतालों में मरीजों की बाढ़ आई हुई है. मरीज़ों की बढ़ती संख्या की वजह से जहां अस्पतालों में डॉक्टर लगातार कई शिफ्टों में काम कर रहे हैं तो वहीं जरूरी मेडिकल संसाधनों की कमी से भी स्पेन जूझ रहा है.

वहीं स्पेन के लिए दूसरे मुश्किल हालात बाढ़ ने पैदा कर दिए हैं. पूर्वी स्पेन के कास्टेलॉन प्रांत में भारी बारिश की वजह से आई बाढ़ से 170000 लोग प्रभावित हो गए हैं. ऐसे में स्पेन पर एक तरफ कोराना तो दूसरी तरफ प्राकृतिक आपदा की दोहरी मार पड़ी है.

यूरोप के 11 देश कोरोनावायरस की बुरी तरह चपेट में हैं. इटली के बाद स्पेन में हालात बहुत खराब हो चुके हैं. जबकि फ्रांस और ब्रिटेन में भी हाहाकार मचा हुआ है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First revealed: April 3, 2020, 1:11 PM IST



[ad_2]

Leave a Reply