कोरोना: यूरोप में वायरस संक्रमण के 10 लाख मामले, जर्मनी में 1 दिन में 285 मौतें | coronavirus cases pass 1 million in europe as germany suffers with 285 fatalities in a day | rest-of-world – News in Hindi

0
53

बर्लिन: यूरोप (Europe) में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण के मामले 10 लाख से भी ज्यादा हो गए हैं. पूरी दुनिया में यूरोप बुरी तरह से कोरोना की चपेट में है. जर्मनी इससे बुरी तरह से प्रभावित हुआ हैं. वहां पिछले 14 घंटे में 285 मौतें दर्ज की गई हैं. पिछले हफ्ते की तुलना में 10 फीसदी ज्यादा मौतें हुई हैं.

जर्मनी में वायरस संक्रमण के नए मामलों में कमी के बावजूद मौत की संख्या में इजाफा हुआ है. इसकी वजह से एक्सपर्ट जर्मनी में स्कूलों को जल्दबाजी में खोलने के फैसले पर दोबारा विचार करने को कह रहे हैं. एक्सपर्ट बता रहे हैं कि जिस तरह का पैटर्न देखने में आ रहा है, उसके मुताबिक आगे भी वायरस संक्रमण के नए मामलों में तो कमी आ सकती है लेकिन मौत के आंकड़े बढ़ सकते हैं.

जर्मनी में पिछले शुक्रवार की तुलना में मौत में 9.6 फीसदी का इजाफा दर्ज किया गया है. जर्मनी में वायरस संक्रमण की चपेट में आकर कुल 3,254 लोगों की मौत हुई है. हालांकि एक दिन पहले की तुलना में संक्रमण के नए मामले भी बढ़े हैं. जर्मनी में आज संक्रमण के 2,486 मामले सामने आए हैं, जबकि एक दिन पहले संक्रमण के 2,082 मामलों को दर्ज किया गया था. 22 मार्च के बाद एक दिन में संक्रमण का ये सबसे कम मामला रहा.यूरोप के कुछ देश लॉकडाउन में दे रहे छूट
यूरोप संक्रमण से बुरी तरह से प्रभावित हुआ है. एएफपी की एक रिपोर्ट के मुताबिक यूरोप में संक्रमण के 10 लाख Three हजार 284 मामले सामने आए हैं. पूरे यूरोप में वायरस के संक्रमण की चपेट में आकर 84 हजार 465 लोगों की जान गई है. जबकि पूरी दुनिया में संक्रमण का मामला 20 लाख के पार चला गया है.

डेनमार्क में 11 साल के उम्र तक के बच्चे नर्सरी स्कूलों मे वापस आ रहे हैं. डेनमार्क यूरोप का पहला देश है, जहां के स्कूलों को दोबारा से खोला गया है. हालांकि स्कूलों के खुलने से सभी अभिभावक खुश नहीं हैं. कई अभिभावकों ने संभावित खतरे की आशंका जताई है और सरकार के फैसले पर चिंता जाहिर की है. डेनमार्क में वायरस संक्रमण के 6,500 मामले सामने आए हैं. यहां वायरस की चपेट में आकर 299 लोगों की जान गई है.

इटली और स्पेन में भी लॉकडाउन में छूट

इटली ने भी लॉकडाउन में छूट दी है. मंगलवार को यहां किताबें बेचने वाली दुकानें, स्टेशनरी शॉप और बच्चों की पोशाक बेचने वाली दुकानें खुल गईं.

बुधवार को स्पेन में भी मजूदर अपने काम पर वापस लौट आए. स्पेन अपनी अर्थव्यवस्था में तेजी लाने में जुटा है. जबकि कोरोना वायरस की वजह से यहां 17,209 लोगों की जान गई है.

ये भी पढ़ें:

टॉप के डिप्लोमैट ने WHO की फंडिंग रोकने की अमेरिकी कार्रवाई पर जताई चिंता

कोरोना: दुबई का वर्ल्ड ट्रेड सेंटर बना विशाल अस्पताल, मरीजों की लगी भरमार

कोरोना: डेनमार्क में अभिभावकों की चिंता- उनके बच्चों पर प्रयोग कर रही है सरकार

दुनिया में कोरोना Live: ट्रंप के फैसले के खिलाफ WHO के समर्थन में जर्मनी, चीन ने जताई चिंता

कौन था कोरोना वायरस का पहला मरीज, क्‍यों जरूरी होता है ‘पेशेंट जीरो’ की पहचान होना

अगर अमेरिका नहीं रोकता तो four साल पहले ही बन चुकी होती कोराना वायरस की वैक्‍सीन



[ad_2]

Leave a Reply