कोरोना पॉज़िटिव के एक दिन में रिकॉर्ड 1154 मामलों से रूस में हड़कंप, चीन से सटी सीमा की बंद||record 1154 corona positive cases were reported in russia border with China closed | rest-of-world – News in Hindi

0
118

कोरोना पॉज़िटिव के एक दिन में रिकॉर्ड 1154 मामलों से रूस में हड़कंप, चीन से सटी सीमा की बंद

रूस में अचानक ही कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की तादाद में तेजी आनी शुरू हो गई है

रूस (Russia) में सबसे ज्यादा मामले राजधानी मॉस्को (Moscow) में सामने आए हैं. 30 मार्च से मॉस्को की तकरीबन 1 करोड़ 20 लाख की आबादी को घरों के भीतर रहने को कहा गया है

रूस (Russia) में मंगलवार को कोरोनावायरस (Coronavirus) के संक्रमण के 1154 मामले सामने आने से हड़कंप मच गया. इन नये मामलों के साथ ही रूस में अब तक 7497 लोग कोरोना से संक्रमित हो गए हैं. जबकि पिछले 24 घंटों में 11 लोगों की कोरोना संक्रमण की वजह से मौत हो चुकी है. इसके साथ ही रूस में कोरोना से मरने वालों की संख्या 58 हो गई है.

मॉस्को टाइम्स में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना संक्रमण को लेकर रूस के आधिकारिक आंकड़ों पर शक जताया जा रहा है. ये माना जा रहा है कि जिस तरह से यूरोप में कोरोनावायरस ने कोहराम मचाया हुआ है उसे देखते हुए रूस में संक्रमितों की  संख्या कहीं बहुत ज्यादा हो सकती है. जानकारों का मानना है कि रूस की टेस्ट करने की क्षमता पर दरअसल ब्यूरोक्रेसी का दबाव हावी है जिस वजह से सही आंकड़े सामने नहीं  आ रहे हैं जबकि असल संख्या कहीं बहुत ज्यादा हो सकती है.

रूस में सबसे ज्यादा मामले राजधानी मॉस्को में सामने आए हैं. 30 मार्च से मॉस्को की तकरीबन 1 करोड़ 20 लाख की आबादी को घरों के भीतर रहने को कहा गया है. केवल जरूरी सामान खरीदने के लिए ही लोग घर से निकल सकते हैं वहीं कोरोना के खिलाफ सरकार के अभियान में शामिल लोगों को घरों से बाहर निकलने की छूट मिली है.

रूस में सबसे ज्यादा उन लोगों में कोरोना पॉज़िटिव पाया गया जो कि यूरोप के तमाम देश खासतौर से इटली से रूस लौटे. माना जा रहा है कि इटली और अमेरिका की ही तरह रूस में  शुरुआत में हुई कोरोना  टेस्टिंग को लेकर लापरवाही अब रूस पर भारी पड़ रही है. रूस ने यूरोप से आने वाले लोगों की जांच में तत्परता नहीं दिखाई जिसकी वजह से अब मामलों में तेज़ी आ रही है. खुद रूसी प्रशासन का एक वर्ग मानता है कि कोरोना संक्रमण के आंकड़ों में काफी अंतर हो सकता है.चीन से सटी सीमा रूस ने की सील

रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन ने खुद भी ये स्वीकार किया कि रूस जैसी बड़ी सीमा वाले देश में कोरोना संक्रमण पर रोक लगा पाना आसान नहीं होगा. रूस की चीन के साथ सबसे लंबी सीमा लगती है. चीन से सटे इलाके में 59 लोगों में कोरोना पॉज़िटिव पाए जाने के बाद रूस ने अपनी सीमा सील कर दी है. सीमा से सटे इलाके में मौजूद तमाम होटल, गेस्टहाउस और नर्सिंग होम भी बंद कर दिए गए हैं. वहीं व्लादिवोस्तोक में चीनी दूतावास में ये नोटिस लगा दी गई है कि मंगलवार से सीमा पर रूस की डोमेस्टिक उड़ानों में सवार होने वाले सभी चीनी नागरिकों को 14 दिनों तक क्वारेंटाइन में रखा जाएगा.

चीन में हालात फिलहाल सामान्य हैं. जनवरी के बाद पहली बार ऐसा हुआ है कि पिछले 24 घंटों में चीन में एक भी मौत नहीं हुई है. जिसकी वजह से सामान्य होते हालत के चलते लॉकडाउन जैसी स्थिति को धीरे-धीरे हटाया जा रहा है. चीन में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 32 नए केस सामने आए हैं जो सभी विदेशी नागरिकों के हैं. चीन में अबतक 81 हज़ार से ज्यादा मामले आ चुके हैं जबकि 3335 लोगों की मौत हो चुकी है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First revealed: April 7, 2020, 7:02 PM IST



[ad_2]

Leave a Reply