कोरोना टेस्ट की नई तकनीक सामने आई, अब और तेजी से पता चलेगा रिज़ल्ट | Scientists will now investigate corona faster with new know-how: study | rest-of-world – News in Hindi

0
40

कोरोना टेस्ट की नई तकनीक सामने आई, अब और तेजी से पता चलेगा रिज़ल्ट

इस नई पद्धति से सतह पर अणुओं के बीच संपर्क का पता लगाया जा सकता है.

अभी कोविड-19 (COVID-19) वैश्विक महामारी से लड़ने में पीसीआर आधारित जांच का ही इस्तेमाल किया जा रहा है.

जिनेवा. कोरोना वायरस (Corona virus) का प्रभाव इसलिए भी तेजी से बढ़ा, क्‍योंकि इसकी जांच करने में समय लग रहा है. मगर अब वैज्ञानिकों ने एक नई जांच विकसित की है. यह कोरोना वायरस का न सिर्फ ज्‍यादा तेजी से, बल्कि सटीकता से पता लगा सकती है और पॉलीमरेज श्रृंखला अभिक्रिया (PCR) आधारित जांच पर दबाव से राहत दिला सकती है. इसका इस्तेमाल अभी किया जा रहा है. ऐसे में उम्‍मीद की जा रही है कि इससे कोरोना की रोकथाम में मद्द मिलेगी.

शोधकर्ताओं ने प्लाज्मोनिक फोटोथर्मल सेंसिंग पर आधारित जांच विकसित की है
अभी कोविड-19 (COVID-19) वैश्विक महामारी से लड़ने में पीसीआर आधारित जांच का ही इस्तेमाल किया जा रहा है. इस संवेदनशील जांच में मरीज के मुंह के लार के नमूने की जांच की जाती है, ताकि विषाणु की छोटी-से छोटी मात्रा का भी पता लगाया जा सके. अब स्विट्जरलैंड में ईटीएच ज्यूरिख के इंस्टीट्यूट ऑफ एनवॉयनमेंटल इंजीनियरिंग के शोधकर्ताओं ने प्लाज्मोनिक फोटोथर्मल सेंसिंग पर आधारित अधिक सटीक जांच विकसित की है.

इस पद्धति से सतह पर अणुओं के बीच संपर्क का पता लगाया जा सकता है. स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि कोविड-19 (COVID-19) पर लगाम लगाने के लिए जांच का दायरा बढ़ाना महत्वपूर्ण है. यह शोध पत्रिका एसीएस नैनो में प्रकाशित हुआ है. लगभग पूरी दुनिया में अपना प्रकोप फैला चुके कोरोना वायरस (Corona virus) की रोकथाम के लिए वैज्ञानिक शोध में जुटे हुए हैं, ताकि इसके प्रकोप को रोकने के लिए कारगर उपाय किए जा सकें.ये भी पढ़ें – COVID-19 टीके से ही सामान्य स्थिति में लौट सकती है दुनिया: संयुक्त राष्ट्र

                जानिए दुनिया में कैसे हुई कोरोना वायरस से मुकाबला करने वाले N-95 मास्क की शुरुआत

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First revealed: April 16, 2020, 12:58 PM IST



[ad_2]

Leave a Reply