कोरोना के कहर पर पुतिन की चेतावनी, महासंकट से मुकाबले के लिए रहो तैयारcorona outbreak putin warns russia faces extraordinary crisis | rest-of-world – News in Hindi

0
353

कोरोना के कहर पर पुतिन की चेतावनी, महासंकट से मुकाबले के लिए रहो तैयार

रूस में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों पर राष्ट्रपति पुतिन ने जनता को आगाह किया है
(फाइल फोटो)

पुतिन (Vladimir Putin) ने अधिकारियों से कोरोना (Coronavirus) महामारी की वजह से मुश्किल और अप्रत्याशित हालात के लिए तैयार रहने को कहा

रूस (Russia) के राष्ट्रपति ब्लादीमिर पुतिन (Vladimir Putin) ने देश को कोरोना महामारी (Coronavirus) के संकट से निपटने के लिए हम स्थिति का सामना करने को आगाह किया है. पुतिन ने देश को कोरोना के महा संकट  से मुकाबले के लिए तैयार रहने को कहा है. पुतिन ने कहा कि जितनी तेजी से दुनिया में हालात बदल रहे हैं वो सही तरफ इशारा नहीं कर रहे हैं. साथ ही पुतिन ने चीन की तर्ज पर कोरोनावायरस से जंग में रूसी सेना के इस्तेमाल का भी इशारा किया है.

दुनिया भर के देशों में कोरोना संक्रमण के 20 लाख मामले सामने आ चुके हैं. ऐसे में पुतिन ने अधिकारियों से कोरोना महामारी की वजह से मुश्किल और अप्रत्याशित हालात के लिए तैयार रहने को कहा. रूसी अधिकारियों से वीडियो कॉन्फेंसिंग में पुतिन ने कहा कि हालात दिनों दिन तेजी से बदल रहे हैं और दुर्भाग्य से बुरी तरफ बढ़ रहे हैं. ऐसी परिस्थिति में रूस के लिए आने वाले कुछ हफ्ते बहुत ही निर्णायक साबित होने वाले हैं.

वीडियो कॉन्फ्रेंस में पुतिन ने महामारी से जंग में तैनात फ्रंट लाइनर्स यानी डॉक्टर्स और अन्य लोगों के लिए जरुरी पीपीई यानी पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट, मास्क, ग्लव्स और जरूरी मेडिकल संसाधननों की कमी को जल्द दूर करने के लिए कहा. साथ ही जरूरत पड़ने पर सेना की मदद का भी भरोसा दिलाया.

पुतिन की रूस की जनता के लिए चेतावनी ऐसे समय सामने आई है जबकि दुनियाभर में 119678 लोगों की  कोरोना से मौत हो चुकी है. रूस में अब तक 18328 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं जबकि 148 लोगों की अब तक मौत हो चुकी है. सोमवार को रूस में कोरोना पॉज़िटिव के 2558 मामले सामने आए जबकि रूस में इस वक्त लोग कड़े लॉकडाउन से गुजर रहे हैं. ऐसे में लॉकडाउन के बावजूद कोरोना संक्रमण का बढ़ना रूस की नींद उड़ाने के लिए काफी है.उधऱ चीन ने भी रूस में फैलते कोरोना संक्रमण को लेकर चिंता जताई है. चीन में अब रोज़ाना सामने आने वाले संक्रमण के मामलों में भारी गिरावट आई है. एक वक्त चीन कोरोना महामारी से बुरी तरह जूझ रहा था. लेकिन चीन में जो नए मामले सामने आ रहे हैं वो इलाके रूस की सीमा से सटे हुए हैं. जिस वजह से रूस की सीमा से सटे इलाके अब लॉकडाउन जैसे उपायों के जरिए संक्रमण को रोकने की प्राथमिकता बन गए हैं.

चीन के स्टेट मीडिया के अनुसार हिलॉन्गजियांग प्रांत में रूस से चीन लौटने वाले 89 नागरिकों में से 79 लोगों में कोरोना संक्रमण पाया गया. ग्लोबल टाइम्स लिखता है कि दुनिया में रूस का उदाहरण ताजा है जो कि कोरोनो संक्रमण के इम्पोर्टेड केस को रोकने में नाकाम साबित हुआ है. साफ है कि रूस ने अपने देश में दूसरे देशों से आए संक्रमित नागरिकों की कोरोना स्क्रीनिंग में तत्परता नहीं दिखाई जिसका खामियाज़ा अब रूस भुगत रहा है.  यही वजह है कि रूस के राष्ट्रपति पुतिन अब अधिकारियों को कोरोना के कहर की चेतावनी से आगाह कर रहे हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First printed: April 14, 2020, 5:30 PM IST



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here