कोरोना: इस देश में डॉक्टर्स पर ही संक्रमण फैलाने का आरोप लगाकर लोग कर रहे हैं मारपीट I Argentinas coronavirus patients medical workers harassed | rest-of-world – News in Hindi

0
51

कोरोना: इस देश में डॉक्टर्स पर ही संक्रमण फैलाने का आरोप लगाकर लोग कर रहे हैं मारपीट

अर्जेंटीना में अफवाह के बाद लोग डॉक्टर्स पर ही कर रहे हमले

अर्जेंटीना (Argentina) में एक अफवाह ने मेडिकल कर्मियों की जान खतरे में डाल दी है. अर्जेंटीना में अफवाह फ़ैल गयी है कि कोरोना (Covid-19) संक्रमितों का इलाज कर रहे डॉक्टर्स और अन्य मेडिकल स्टाफ के जरिए ही संक्रमण फ़ैल रहा है, इसके बाद उन पर लगातार हमलों की खबरें आ रहीं हैं.

ब्यूनोस आयर्स. एक तरफ जहां दुनिया भर के देशों में कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के खिलाफ फ्रंट लाइन पर लड़ रहे डॉक्टर्स और अन्य मेडिकल स्टाफ के साहस को सलाम किया जा रहा है, वहीं अर्जेंटीना (Argentina) में एक अफवाह ने मेडिकल कर्मियों की जान खतरे में डाल दी है. अर्जेंटीना में अफवाह फ़ैल गयी है कि कोरोना (Covid-19) संक्रमितों का इलाज कर रहे डॉक्टर्स और अन्य मेडिकल स्टाफ के जरिए ही संक्रमण फ़ैल रहा है, इसके बाद उन पर लगातार हमलों की खबरें आ रहीं हैं.

अल जजीरा से बातचीत में डॉक्टर फर्नांडो गेतन बताते हैं कि बीते दिनों जब लगातार कई दिन तक अस्पताल में काम करने के बाद वे अपने घर लौटे तो लिफ्ट के पास उन्होंने ऐसा कुछ पढ़ा जिसके बाद उन्हें ऐसा लगा कि किसी ने उनकी पीठ में छुरा मार दिया है. फर्नांडो ने बताया कि बाद में सोसायटी के लोगों ने ‘तुम कोरोना संक्रमण फैला दोगे’ लिख कर उनके दरवाजे पर भी चिपका दिया. फर्नांडो के मुताबिक उन्हें उस दिन एहसास हुआ कि उनके साथ विश्वासघात हुआ है. बता दें कि सिर्फ फर्नांडो ही नहीं अर्जेंटीना में ऐसी कई घटनाएं सामने आ रहीं हैं जिसमें डॉक्टर, नर्स और मेडिकल स्टाफ के सदस्यों के साथ सार्वजनिक स्थलों पर अभद्रता की गयी.

मिल रहीं हैं जान से मारने की धमकियां
कई डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ से जुड़े सदस्यों ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि उनके घरों के बाहर ऐसा लिख कर चिपकाया जा रहा है कि अगर तुम्हारी वजह से किसी को कोरोना संक्रमण हुआ तो ये तुम्हारी जिंदगी का आखिरी दिन होगा. फर्नांडो बताते हैं कि देश में सामने आ रहीं ऐसी घटनाओं के सामने आने के बाद मैं रात में डर से रोता रहता हूं. डॉक्टर्स ने शिकायत की है कि अब उन्हें काम पर जाने से भी डर लगने लगा है. सिर्फ डॉक्टर्स ही नहीं बल्कि वे लोग जो संक्रमण के शक के दायरे में हैं और सेल्फ क्वारंटीन में रह रहे हैं उनके घरों के बाहर भी इसी तरह के धमकियों के पोस्टर चिपकाए जा रहे हैं.संक्रमितों के साथ भी हो रहा बुरा व्यवहार

स्पेन के मैड्रिड में रहकर पढ़ाई कर रहीं 25 साल की मारिसोल सैन रोमन बताती हैं कि बीते दिनों वे कोरोना की चपेट में आ गयीं थीं. अब वे ठीक हो गयीं है लेकिन सोशल मीडिया और अन्य जगहों पर उन्हें लगातार धमकियां आ रहीं हैं. धमकियों में उन्हें घर से बाहर न निकलने के लिए कहा जा रहा है. बता दें कि अर्जेंटीना में 20 मार्च से ही लॉकडाउन जारी किया गया है.

अर्जेंटीना की पुलिस ने इसके संबंध में एक एडवाइजरी भी जारी की है. देश के उत्तरी प्रोविंस में भी गवर्नर ने उन स्थानीय अधिकारियों को माफ़ी मांगने के लिए कहा था जिन्होंने कोरोना मरीजों का इलाज कर रहे डॉक्टर्स और अन्य मेडिकल स्टाफ के घर के बाहर नोटिस चिपका दिए थे. पुलिस का कहना है कि डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ के खिलाफ सोशल मीडिया पर भी कई तरह के भ्रामक मैसेज फैलाए जा रहे हैं.

 

ये भी पढ़ें:

इस अमेरिकी महिला सैनिक को माना जा रहा कोरोना का पहला मरीज, मिल रही हत्या की धमकियां

उत्तर कोरिया में किम जोंग के वो चाचा कौन हैं, जो सत्ता का नया केंद्र बनकर उभरे हैं

दुनिया की सबसे खतरनाक लैब, जहां जिंदा इंसानों के भीतर डाले गए जानलेवा वायरस

दुनियाभर के विमानों में अब कोरोना के बाद कौन सी सीट रखी जाएगी खाली

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First printed: April 29, 2020, 11:10 AM IST



[ad_2]

Leave a Reply