इटली की लक्ज़री कार कंपनी लेम्बोर्गिनी बनाएगी मास्क और इज़रायल के मिसाइल सेंटर में बनेंगे वेंटिलेटर||Lamborghini car company will make mask and  missile centre in Israel will  produce ventilators | rest-of-world – News in Hindi

0
140

इटली की लग्ज़री कार कंपनी लेम्बोर्गिनी बनाएगी मास्क और इज़राइल के मिसाइल सेंटर में बनेंगे वेंटिलेटर

हिमाचल में निजी अस्पतालों को सरकार के आदेश. (प्रतीकात्मक फोटो)

दुनिया में अपने प्रोडक्ट से धाक जमाने वाली कंपनियां भी कोरोनावायरस के खिलाफ निर्णायक जंग में उतर चुकी हैं

कोरोनावायरस की घातक महामारी पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले चुकी है. लगातार इसके बढ़ते संक्रमण और उनसे होने वाली मौत के आंकड़ों के आगे इंसान बेबस नज़र आ रहा है. ऐसे में दुनिया में अपने प्रोडक्ट से धाक जमाने वाली कंपनियां भी कोरोनावायरस के खिलाफ निर्णायक जंग में उतर चुकी हैं. दुनियाभर में अलग-अलग कंपनियां अपने तरीके से कोरोनावायरस के खिलाफ जंग में सहायता कर रही हैं. इटली की लग्ज़री कार बनाने वाली लेम्बोर्गिनी कंपनी ने ऐलान किया है कि वो प्रोटेक्टिव सूट और मास्क बनाएगी.

कंपनी ने ट्वीट कर कहा है कि उसने अपनी फैक्ट्री के कुछ डिपार्टमेंट में प्रोटेक्टिव प्लेक्सिग्लास शील्ड्स और मास्क के उत्पादन के लिए बदलाव किया है और उन उत्पादों को इटली के एक अस्पताल को दिया जाएगा. कंपनी एक दिन में 1000 मास्क और 200 प्रोटेक्टिव प्लेक्सिग्लास शील्ड्स बनाएगी.

लेम्बोर्गिनी की चेयरमैन और सीईओ स्टेफानो डोमोनीसी ने ट्वीट कर कहा कि मास्क और प्रोटेक्टिव सूट को बनाने के बाद उन्हें इटली के बोलोग्ना के सेंट सोला मालपीघी हॉस्पिटल भेजा जाएगा.

लेम्बोर्गिनी के सीईओ ने कहा कि मौजूदा आपातकाल के हालातों में ऐसे ठोस कदम उठाने की जरूरत है. ऐसे समय लग्ज़री नहीं बल्कि ज़िंदगी बचाने वाली चीज़ों की जरूरत है और हम उसी के लिए काम करेंगे.इटली में कोरोनावायरस संक्रमण का पहला मामला 20 फरवरी को सामने आया था. इसके बाद तेजी से आंकड़ों में बढ़ोतरी हो गई. इटली में अब तक 12428 लोगों की कोरोना संक्रमण की वजह से मौत हो गई है जबकि 105792 लोग संक्रमित हो चुके हैं. इटली में पूरी तरह लॉकडाउन है. उसके बावजूद संक्रमण के मामलों में कोई कमी नहीं आ रही है.

तेल अवीव में मिसाइल कारखाने में बनेंगे वेंटिलेटर

इज़राइल में भी कोरोनावायरस से 5 हज़ार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं जबकि 17 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. इज़राइल सरकार ने घोषणा की है कि वो मरीज़ों के लिए वेंटिलेटर बनाने के काम में तेज़ी लाएगी. इज़राइल के रक्षा मंत्री ने कहा है कि देश में मिसाइल बनाने वाले सेंटर में वेंटिलेटर का निर्माण किया जाएगा. तेल अवीव में मौजूद मिसाइल सेंटर को वेंटिलेटर बनाने वाले कारखाने में तब्दील कर दिया गया है. इज़रायल में फिलहाल 2000 वेंटिलेटर हैं और जबकि हालात को देखते हुए उसे अभी बहुत सारे वेंटिलेटर की जरूरत है.

इसी तरह फ्रांस में रेस्पिरेटर मेकर कंपनी एयर लिक्विड ने कार पार्ट्स निर्माता वेलेओ, कार निर्माता PSA और इलेक्ट्रिकल इक्विपमेंट कंपनी श्नाइडर इलेक्ट्रिक के साथ मिल कर वेंटिलेटर बनाने का ऐलान किया है. ये कंपनिया आपस में मिल कर 15 मई तक 10 हज़ार वेंटिलेटर्स का निर्माण करेंगीं. फ्रांस में भी कोरोनावायरस की वजह से हालात बेहद खराब हैं. अब तक 50 हज़ार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं जबकि 3500 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First printed: April 1, 2020, 8:10 PM IST



[ad_2]

Leave a Reply