COVID-19: दुनियाभर में सरकारें लॉकडाउन में ढील देने के दबाव का कर रही हैं सामना – COVID-19: Governments around the world are facing pressure to lockdown | relaxation-of-world – News in Hindi

0
44

COVID-19: दुनियाभर में सरकारें लॉकडाउन में ढील देने के दबाव का कर रही हैं सामना

लॉकडाउन खोलने के दबाव में है कई देश की सरकार

अमेरिका और कुछ अन्य देशों में संक्रमण के मामले बढ़ने के बावजूद सरकार को कारखानों, दुकानों, यात्रा और जन गतिविधियों को फिर से खोलने के दबाव का सामना करना पड़ रहा है.

सियोल. दक्षिण कोरिया (South Korea) में दो महीने में पहली बार रविवार को कोरोना वायरस (Coronavirus) के 10 से कम नए मामले सामने आए जबकि अमेरिका (America) में लॉकडाउन (Lockdown) के विरोध की आंच अब ज्यादातर राज्यों के गवर्नरों तक पहुंच रही है और वे इसमें छूट देने के लिए बाध्य हो रहे हैं. ब्राजील में भी वायरस रोधी लॉकडाउन के खिलाफ प्रमुख शहरों में सैकड़ों लोगों ने प्रदर्शन किया.

फ्रांस में आईसीयू में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या में कमी देखी गई है लेकिन उसकी स्वास्थ्य एजेंसी ने जनता को पृथक होने संबंधी सख्त नियमों का पालन करने के लिए कहा है. अमेरिका के जॉन्स हॉप्किन्स विश्वविद्यालय के अनुसार, मध्य चीन में दिसंबर में शुरू हुए इस संक्रामक रोग ने दुनियाभर में 23 लाख से अधिक लोगों को अपने चपेट में ले लिया है. ज्यादातर लोग स्वस्थ हो गए जबकि कम से कम 155,000 लोगों की मौत हो गई.

दक्षिण कोरिया में आठ नए मामले सामने आए जिससे कुल संक्रमितों की संख्या 10,661 पर पहुंच गई और वहां 234 लोग जान गंवा चुके हैं. हालांकि अधिकारियों ने विषाणु के गुपचुप प्रसार की आशंका की चेतावनी दी है क्योंकि लोग सामाजिक दूरी के नियमों में ढिलाई बरत रहे हैं. चीन में शनिवार मध्य रात तक 24 घंटों में 16 नए मामले सामने आए लेकिन किसी की मौत नहीं हुई. इसके साथ ही वहां मरने वाले लोगों की आधिकारिक संख्या 4,632 हो गई है.

अमेरिका और कुछ अन्य देशों में संक्रमण के मामले बढ़ने के बावजूद सरकार को कारखानों, दुकानों, यात्रा और जन गतिविधियों को फिर से खोलने के दबाव का सामना करना पड़ रहा है. चीन में शुरू हुआ बंद बाद में अमेरिका, यूरोप तथा दुनिया के अन्य हिस्सों तक फैल गया जिससे करोड़ों लोगों को नौकरियां गंवानी पड़ी और दुनिया सबसे बड़ी आर्थिक मंदी की ओर बढ़ गई.ये भी पढ़ें: यूरोप में कोरोना से मौत का आंकड़ा 1 लाख के पार, अमेरिका में 24 घंटों में 1891 मौत

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने अर्थव्यवस्था में भारी गिरावट का अनुमान जताया है. शनिवार को ट्रंप के समर्थकों ने कई राज्यों में प्रदर्शन कर गवर्नरों से पाबंदियों में ढिलाई देने की मांग की. टेक्सास, इंडियाना और कुछ अन्य राज्यों ने खुदरा और अन्य गतिविधियों को फिर से खोलने की अनुमति देने की योजना का एलान किया है. फ्लोरिडा और दक्षिण कैरोलिना समुद्र तटों को फिर से खोल रहे हैं. हालांकि, न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रयू कुमो ने कारोबार को फिर से खोलने के दबाव के आगे झुकने से इनकार कर दिया है.

न्यूयॉर्क में दो हफ्तों में पहली बार शनिवार को मृतकों की संख्या 550 से कम रही लेकिन कुमो ने बताया कि अस्पतालों में एक दिन में करीब 2,000 नए मरीज आ रहे हैं. वहीं, राज्य के गवर्नरों द्वारा लगाए बंद की आलोचना करने वाले ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो ने शनिवार को कहा कि वह प्राग तथा उरुग्वे के साथ अपनी सीमाओं को फिर से खोलने की सिफारिश करेंगे.

यूरोप में कोविड-19 पर लगाम लगाने के लिए लगाई पाबंदियों के असर करने के सबूत मिले हैं. फ्रांस और स्पेन ने कुछ अस्थायी अस्पतालों को हटाना शुरू कर दिया है. जर्मनी में पिछले हफ्ते से लेकर अभी तक संक्रमण के मामलों में कमी आई है.

ये भी पढ़ें: ट्रंप ने कहा- राज्यों को डेमोक्रेट गवर्नरों से ‘लिबरेट’ करो, बाद में दी सफाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First revealed: April 19, 2020, 1:52 PM IST



[ad_2]

Leave a Reply