जापान के तट के पास आया 6.4 की तीव्रता का भूकंप: यूएसजीएस – 6 point 4 magnitude earthquake struck near Japan coast- USGS | relaxation-of-world – News in Hindi

0
43

जापान के तट के पास आया 6.4 की तीव्रता का भूकंप: यूएसजीएस

जापान के पास आया भूकंप

जापान (Japan) के तट के पास आए 6.4 की तीव्रता के भूकंप (Earthquake) का केंद्र प्रशांत सागर तल के नीचे 41.7 किलोमीटर की गहराई में था. यह मियागी प्रांत से 50 किलोमीटर से भी कम की दूरी पर है.

तोक्यो. जापान (Japan) के पूर्वी तट के पास सोमवार सुबह 6.4 तीव्रता का भूकंप (Earthquake) आया, लेकिन इसके कारण सुनामी संबंधी कोई चेतावनी जारी नहीं की गई है. अमेरिकी भूगर्भीय सर्वेक्षण (United States Geological Survey) ने अपनी वेबसाइट पर बताया कि भूकंप का केंद्र प्रशांत सागर तल के नीचे 41.7 किलोमीटर की गहराई में था. यह मियागी प्रांत से 50 किलोमीटर से भी कम की दूरी पर है.

हालांकि इस भूकंप से यहां जान-माल को कोई खासा नुकसान नहीं पहुंचा है. जापान मौसम विज्ञान एजेंसी ने (जीएमए) ने इस भूकंप की तीव्रता 6.1 बताई और इसका केंद्र 50 किलोमीटर गहराई में बताया.

जापान की क्योदो संवाद समिति ने बताया कि सुबह साढ़े पांच बजे (अंतरराष्ट्रीय समयानुसार रात साढ़े आठ बजे) आए भूकंप के बाद सुनामी संबंधी कोई चेतावनी जारी नहीं की गई है. जापान प्रशांत महासागर के रिंग ऑफ फायर क्षेत्र में आता है जहां अकसर भूकंप आते रहते हैं.

जापान चार बड़े द्वीपों से मिलकर बना है. इसके अलावा इसमें कई सारे छोटे-छोटे द्वीप भी हैं. जापान का भूगोल ऐसा है कि वहां अक्सर भूकंप आते रहते हैं. इन भूकंप के चलते कई बार सुनामी भी आती हैं. हालांकि हर बार इनकी तीव्रता बहुत ज्यादा नहीं होती है.

ये भी पढ़ें: COVID-19: जापान में कोरोना के मरीजों की बाढ़, इमरजेंसी मेडिकल सिस्टम फेल

2019 में यहां भूकंप आया था जिसके बाद सुनामी की चेतावनी जारी की गई थी. वही 2011 में आये 9.zero तीव्रता के विनाशकारी भूकंप के बाद भयानक सुनामी आई थी और फुकुशिमा परमाणु संयंत्र से विकिरण रिसाव हुआ था. इस दौरान करीब 16,000 लोगों की मौत हो गई थी.

साल 1896 में जापान में ऐसा भूकंप आया जिससे सानरिकू तट पर आई सुनामी ने करीब 22,000 लोगों की जिंदगियां ले ली थीं. इसे जापान के इतिहास की सबसे विनाशकारी सुनामी माना जाता है. जिसे वहां के लोग 123 साल बाद भी भुला नहीं पाए. (भाषा इनपुट) 

ये भी पढ़ें: कोरोना महामारी पर जर्मनी के अखबार के तीखे सवालों से तिलमिलाया चीन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First revealed: April 20, 2020, 9:20 AM IST



[ad_2]

Leave a Reply