केन्या में गवर्नर ने गले का सैनिटाइज़र बताकर बांटी शराब और कहा कोरोना से बचाएगी तो भड़का WHO  |kenya governor says alcohol plays a major role in killing coronavirus | rest-of-world – News in Hindi

0
75

केन्या में गवर्नर ने सैनिटाइज़र बताकर बांटी शराब, कहा-कोरोना से बचाएगी तो भड़का WHO

केन्या में नैरोबी के गवर्नर कोरोना महामारी से निपटने के लिए जनता को शराब बांट रहे हैं.
साभार-ट्वीटर

केन्या (Kenya) की राजधानी नैरोबी (Nairobi) के गवर्नर माइक सोंको (Mike Sonko) अपने राज्य में गरीबों को फूड पैकेट के साथ शराब भी बांट रहे हैं और इसे गला साफ करने वाला सैनिटाइज़र बता रहे हैं.

दुनियाभर में अब तक कोरोनावायरस (Coronavirus) से डेढ़ लाख से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं क्योंकि इस बीमारी की कोई दवाई या वैक्सीन (Vaccine) मौजूद नहीं है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) संभावना जाता रहा है कि इस साल के आखिर तक कोरोना की वैक्सीन बन सकती है. ऐसे में जहां कोरोनावायरस का संक्रमण लाइलाज है तो अफ्रीकी देश केन्या (Kenya) के गवर्नर अपनी जनता को समझा रहे हैं कि शराब से कोरानावायरस को रोका जा सकता है.

केन्या (Kenya) की राजधानी नैरोबी (Nairobi) के गवर्नर माइक सोंको (Mike Sonko) अपने राज्य में गरीबों को फूड पैकेट के साथ शराब भी बांट रहे हैं और इसे गला साफ करने वाला सैनिटाइज़र बता रहे हैं.

माइक सोंको का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें उन्होंने खाने के पैकेट के साथ हेनेसी की बॉटल बंटवाने की बात की है. हेनेसी शराब का एक प्रकार होती है. वीडियो में माइक सोंकी कह रहे हैं कि ‘कोरोनावायरस महामारी के बीच शहर के गरीब परिवारों को खाने के पैकेट के साथ हेनेसी की छोटी बॉटल भी दी जा रही है.’ उन्होंने कहा कि ‘विश्व स्वास्थ्य संगठन और दूसरे हेल्थ ऑर्गेनाइज़ेशन ने रिसर्च में ये पाया कि कोरोनावायरस या दूसरे किसी भी वायरस को खत्म करने में शराब बहुत कारगर होती है.’

डब्लूएचओ ने कभी ये नहीं कहा कि अल्कोहल के इस्तेमाल से कोरोनावायरस का संक्रमण रुक सकता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने ये साफ साफ कहा है कि अल्कोहल कोरोनावायरस से नहीं बचाता है और लोगों को इसके सेवन से परहेज़ करने को कहा है.

यहां तक कि किसी देश में किसी भी डॉक्टर या दवा बनाने वाली कंपनी ने भी ऐसा दावा नहीं किया कि शराब या अल्कोहल से वायरस का संक्रमण खत्म होता है. लेकिन नैरोबी के गवर्नर माइक सोंको कहते हैं कि वायरस को मिटाने में शराब की अहम भूमिका है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन को जब केन्या के गवर्नर की बात पता चली तो उसने तुरंत ही बयान जारी कर दावे को खारिज़ कर दिया. WHO ने कहा कि शराब का सेवन स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक होता है और ये शरीर की रोगप्रतिरोधी क्षमता को इस कदर कम करता है जिससे कोरोनावायरस या दूसरे तमाम वायरस से भी व्यक्ति संक्रमित हो सकता है.

गवर्नर माइक सोंको के बयान से बवाल मच गया है. यहां तक कि शराब बनाने वाली हेनेसी ने भी गवर्नर के दावों को खारिज़ कर दिया है कि उसकी शराब पीने से कोरोनावारस के संक्रमण से बचा जा सकता है. हेनेसी ने अपने बयान मे कहा कि वो इस बात पर ज़ोर देना चाहेंगे कि उनकी कंपनी की शराब या किसी भी दूसरे ब्रांड का अल्कोहलिक पदार्थ कोरोनावायरस से बचाव नहीं करता है.

केन्या के गवर्नर माइक सोंको खुद ही कोरोनावायरस के इलाज के लिए अफवाह फैला रहे हैं. जबकि ईरान में सोशल मीडिया में भी इसी तरह की अफवाह फैली थी कि शराब पीने से कोरोना का इलाज हो जाता है. जिस पर भरोसा कर जहरीली शराब पीने की वजह से ईरान में 600 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First printed: April 18, 2020, 4:23 PM IST



[ad_2]

Leave a Reply